Advertisements

Category: Purana


आप अपने घर में #शिवलिंग स्थापित करने के बारे में सोच रहे हैं तो रखें कुछ बातों का ध्यान, फायदे में रहेंगे!
भगवन शिव के बारे में तो आप जानते ही हैं, वह बहुत ही दयालु भी हैं और क्रोधी स्वाभाव के भी हैं। जो उन्हें सच्चे मन से याद करता है, उसकी पुकार वह तुरंत सुन लेते हैं। अगर आपने भी अपने घर में #शिवलिंग स्थापित किया हुआ है या करने के बारे में सोच रहे हैं, तो कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ही जरुरी है। आप तो जानते ही हैं कि भगवन शिव जब क्रोधित हो जाते हैं, तो वह पूरी पृथ्वी का विनाश करने की क्षमता रखते हैं। ऐसे में कोई ऐसा काम ना करें या कोई ऐसी चीज चढ़ावे के रूप में ना चढ़ाएँ जो उन्हें पसंद ना हो। आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं, जो शिवलिंग के साथ नहीं करनी चाहिए।

शिवलिंग के साथ ऐसा भूलकर भी ना करें…..

कोने में ना रखें:-

शिवलिंग अगर घर में स्थापित कर रहे हैं तो उसे भूलकर भी कोने में या किसी ऐसी जगह ना रखें जहाँ आप उसकी पूजा ना कर पायें। ऐसा करने से भगवन शिव क्रोधित हो जाते हैं, और उनके क्रोध से बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होता है।

हल्दी ना चढ़ाएँ:-

जैसा की सभी जानते हैं हल्दी का इस्तेमाल औरतें अपनी खूबसूरती को बढ़ाने के लिए करती हैं। भगवान शिव को खुबसूरत दिखने की कोई इच्छा नहीं है, भगवन शिव एक पुरुष देवता हैं, इसलिए उन्हें हल्दी बिलकुल भी पसंद नहीं है। तो याद रखें उन्हें कभी भी हल्दी ना चढ़ाएँ।

सिंदूर के दूरी रखें:-

आप तो जानते ही हैं कि सिंदूर महिलाएँ लगाती हैं ताकि उनके पति की आयु लम्बी हो सके, और भगवन शिव विनाश के देवता हैं। इसलिए उन्हें सिंदूर बिलकुल भी पसंद नहीं है, तो इस बात का ध्यान रखें कि उन्हें भूलकर भी सिंदूर ना चढ़ाएँ।

स्थान ना बदलें:-

शिवलिंग का स्थान ना बदलें, अगर किन्ही विपरीत कारणों से ऐसा करना पड़ रहा है तो इस बात का ध्यान रखें की शिवलिंग को हटाने से पहले उसे गंगाजल और ठंढे दूध से स्नान करायें फिर उसकी जगह को बदलें। ऐसा ना करने से भगवन शिव क्रोधित हो जाते हैं।

बिना किसी बर्तन के दूध ना चढ़ाएँ:-

कुछ लोग होते हैं जो सोचते हैं कि सीधे दुकान से पैकेट वाला दूध ख़रीदा और चढ़ा दिया, ऐसा करने से बचना चाहिए। बिना किसी बर्तन के दूध कभी भी नहीं चढ़ाना चाहिए। दूध चढ़ाते वक़्त एक बात का और ध्यान रखें दूध बिलकुल ठंढा होना चाहिए, भले ही बाहर कोई भी मौसम हो।

शिवलिंग की बनावट का रखें ध्यान:-

शिवलिंग स्थापित करने से पहले इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि शिवलिंग सोने, चाँदी या पीतल का बना होना चाहिए। एक बात और ध्यान रखनी चाहिए कि बिना साँप वाला शिवलिंग भूलकर भी घर नहीं लाना चाहिए।

पानी का रखें ख़ास ध्यान:-

आप जब भी किसी शिव मंदिर में जाते होंगे तो आपने देखा होगा कि शिवलिंग के ऊपर एक पानी से भरा पात्र लटका रहता है, जिससे हर समय पानी टपकता रहता है। इसलिए जब आप भी अपने घर पर शिवलिंग स्थापित करें तो पानी की व्यवस्था ठीक तरह से करें। दिन हो या रात हो हर समय शिवलिंग के ऊपर पानी गिरना चाहिए।

शिवलिंग को अकेले ना रखें:-

जब आप अपने घर पर शिवलिंग स्थापित कर रहे हों तो इस बात का खासतौर पर ध्यान रखें कि शिवलिंग को कभी भी अकेले ना रखें। इसके साथ माँ पार्वती और गणेश की मूर्तियाँ भी रखें।

चन्दन का टिका लगायें:-

हर रोज स्नान करने के बाद शिवलिंग पर चन्दन का टिका लगायें, ऐसा माना जाता है कि इससे शिवलिंग पवित्र और ठंढा रहता है।

कभी ना चढ़ाएँ नारियल पानी:-

आपको इस बात का हमेशा ध्यान रखना होगा कि शिवलिंग पर कभी भी नारियल पानी नहीं चढ़ाना है। ऐसा करने से भगवान शिव क्रोधित हो सकते हैं। हालांकि आप इसकी जगह पर कच्चा नारियल चढ़ा सकते हैं।

कभी न चढ़ाएँ तुलसी की पत्ती:-

शिवलिंग पर भूलकर भी तुलसी की पत्तियाँ नहीं चढ़ानी चाहिए, शिवलिंग पर हमेशा बेलपत्र ही चढ़ाना चाहिए। बेलपत्र बहुत ही शुभ माना जाता है।

बेल चढ़ाएँ:-

बेल भगवन शिव को बहुत पसंद है, ऐसा माना जाता है कि यह फल चढ़ाने से इंसान की उम्र लम्बी होती है। इसलिए आप भी सुबह स्नान करने के बाद बेल के फल को भगवन शिव को चढ़ा सकते हैं, इससे आपकी उम्र और लम्बी हो जाएगी।

पंचामृत चढ़ाएँ:-

कोई भी पूजा शुरू करने से पहले शिवलिंग पर पंचामृत चढ़ाएँ। पंचामृत दूध, गंगाजल और चीनी जैसे पाँच चीजों से मिलाकर बनाया जाता है।

केवल सफ़ेद फूल चढ़ाएँ:-

जब बात फूलों की हो तो हमेशा शिवलिंग पर सफ़ेद फूल ही चढ़ाने चाहिए, यह कहा जाता है कि सफ़ेद फूल भगवान शिव को बहुत ज्यादा पसंद हैं। यह भी कहा जाता है कि भगवन शिव को भूलकर भी केवड़ा और चंपा के फूल नहीं चढ़ाने चाहिए। ऐसा माना जाता है कि इन फूलों को भगवन शिव ने अभिशाप दिया था।

अभिषेक:-

जब भी शिवलिंग का अभिषेक करें इस बात का ध्यान रखें कि हमेशा शिवलिंग का अभिषेक चाँदी, सोने या पीतल से बने नाग योनी जैसे किसी पात्र में करना चाहिए। अभिषेक करते समय इस बात का भी ध्यान रखें की अभिषेक कभी भी स्टील के स्टैंड में नहीं करना चाहिए।

शिवलिंग पर चढ़ाया कभी ना खाएं:-

यह कहा जाता है कि जो भी शिवलिंग पर चढ़ाएँ उसे खुद कभी भी ना खाएं, हमेशा शिवलिंग पर चढ़ाया हुआ दूसरों को बाँट देना चाहिए। जो शिवलिंग पर चढ़ाये हुए को खुद ही खा लेते हैं, ऐसा माना जाता है कि उनका भाग्य बुरा हो जाता है।

सौन्दर्य की कोई भी वस्तु ना चढ़ाएँ:-

सिंदूर की तरह ही भूलकर कोई भी सौन्दर्य प्रसाधन की वस्तु को शिवलिंग पर नहीं चढ़ाना चाहिए। ऐसी चीजें केवल आप माँ पार्वती की मूर्ति पर चढ़ा सकते हैं।

!!ॐ नम: शिवाय!!

Advertisements

शिवपुराण में लिखे कुछ ऐसे उपाय बता रहे हैं, जिन्हें करने से साधक की हर मनोकामना पूरी हो सकती है। ये उपाय बहुत ही आसान हैं।
➡ भगवान शिव को कच्चे चावल चढ़ाने से धन लाभ होता है ।
➡ भगवान शिव को बेला के फूल चढ़ाने से सुंदर पत्नी मिलती है ।
➡ शिवलिंग का अभिषेक गाय के घी से करने से कमजोरी दूर होती है ।
➡ महादेव की पूजा हरसिंगार के फूलों से करें तो सुख-सम्पत्ति में वृद्धि होती है ।
➡ कनेर के फूलों से भगवान शिव की पूजा करने से नए वस्त्र मिलते हैं ।
➡ महादेव को जूही के फूल चढ़ाने से घर में कभी अन्न की कमी नहीं होती ।
➡ धतूरे के फूल से पूजा करने पर महादेव सुयोग्य पुत्र प्रदान करते हैं ।
➡ भगवान शिव को गेहूँ चढ़ाने से संतान वृद्धि होती है ।
➡ शिवजी की पूजा चमेली के फूल से करने पर वाहन सुख मिलता है ।
➡ शिवलिंग पर गन्ने का रस चढ़ाने से जीवन में सभी सुख मिलते हैं ।

ओर टिप्स जानकारी के लिए हमारा ब्लॉग पेज को विजिट करे।

रोहित शाह

वास्तु आचार्य, मास्टर नुमेरोलॉजिस्ट & लाल किताब व फेंगशुई सलाहकार

WhatApp/Call: 7776034447 / 9049410786

eMail: MysticValues@gmail. com

Disclaimer

%d bloggers like this: