Advertisements

Tag Archive: Mantra


Raksha (Protection) Mantra:

This mantra is known as Raksha – Suraksha OR Protection Mantra. This Mantra chanted by Jain Muni with Jain Mantras but I am sure anyone can play this Mantra with positive intent. I personally noticed its working and highly recommend to all.

आत्मरक्षाकर स्तोत्र

ऐसा माना गया है कि…घर से निकलते समय यदि यह मंत्र का ऑडियो भी सुन लिया जाये तो एक्सीडेंट होने की सम्भावना नहीं रहती व मृत्यु तुल्य दुर्घटना की सम्भावना भी समाप्त हो जाती है । यात्रा प्रारम्भ करने से पहले यह स्तोत्र अवश्य ही
सुनना चाहिए ।

=========================================================================

Comments are most welcome. If you need any specific help then do post question(s) and we will do our level best to address in upcoming post(s).

Rohitt Shah (Vastu Acharya – Numero Vastu Guru)

Mahavastu, Numerology, Bazi and Lal Kitab Consultant

Our Online presences and links to follow US

Other Useful Numero Tips /articles:

Numerology Tip: Born from year 2000 onwards; You must Read

Numerology Tip: Your Birthdate and Numerology

Numerology Tip: What is Numerology

Numerology Tip: What Number says about your Profession!!!

Numerology Tip: What Number says about you!!!

Numerology: Will name change benefit the movie #Padmaavat?

Numerology: Number 18 and its Impact

Testimoney – Numerology and Vastu Consultation

Disclaimer

Advertisements

*विष्णु सहस्रनाम मंत्र और इसके लाभ*

नुमेरोलॉजि में अंक 5 की सबसे बड़ा रेमेडी है। Remedy for number 5 in Numerology. Mercury Remedy. Ank 5 aisa number jo baki sub number se friend he or iska strong hone se baki anko se bhi fayda milta he।

Must Mantra for all those who has number 5 missing in their birthdate.

विष्णु सहस्रनाम एक ऐसा मंत्र है जिसमें विष्णु के हजार नामों का सम्मिश्रण है अर्थात अगर कोई व्यक्ति भगवान विष्णु के हजार नामों का जाप नहीं कर सकता है तो वह इस एक मंत्र का जाप कर सकता है। इस एक मंत्र में अथाह शक्ति छिपी हुई है जो कलयुग में सभी परेशानियों को दूर करने में सहायक है।

*विष्णु सहस्रनाम स्त्रोत्र मंत्र :-*

नमो स्तवन अनंताय सहस्त्र मूर्तये, सहस्त्रपादाक्षि शिरोरु बाहवे।
सहस्त्र नाम्ने पुरुषाय शाश्वते, सहस्त्रकोटि युग धारिणे नमः।।

★★★★★★★★★★★★★★★★★

*शैव और वैष्णवों के मध्य यह सेतु का कार्य करता है ये मंत्र :-*

इस मंत्र की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि हिन्दू धर्म के दो प्रमुख सम्प्रदाय शैव और वैष्णवों के मध्य यह सेतु का कार्य करता है।

*विष्णु सहस्रनाम में विष्णु को शम्भु, शिव, ईशान और रुद्र के नाम से सम्बोधित किया है, जो इस तथ्य को प्रतिपादित करता है कि शिव और विष्णु एक ही है।* विष्णु सहस्रानम में प्रत्येक नाम के एक सौ अर्थ से कम नहीं हैं, इसलिए यह एक बहुत प्रकांड और शक्तिशाली मंत्र है, शंकराचार्य और पारसर भट्ट जैसे प्रसिद्ध व्यक्तित्व ने इस पवित्र पाठ पर टिप्पणियां लिखी हैं।

*विष्णु सहस्रनाम उद्ग्म स्रोत :-*

विष्णु सहस्रनम की उत्पत्ति महाकाव्य महाभारत से मानी जाती है, जब पितामह भीष्म, पांडवों से घिरे मौत के बिस्तर पर अपनी मृत्यु का इंतजार कर रहे थे, उस समय युधिष्ठिर ने उनसे पूछा, “पितामह! कृपया हमें बताएं कि सभी के लिए सर्वोच्च आश्रय कौन है? जिससे व्यक्ति को शांति प्राप्त हो सके, वह नाम कोनसा है जिससे इस भवसागर से मुक्ति प्राप्त हो सके, इस सवाल के जबाब में भीष्म ने कहा की वह नाम विष्णु सहस्रनाम है ।

*ज्योतिषीय लाभ :-*

यह नकारात्मक ज्योतिषीय प्रभावों को वश में करने में मदद करता है, इनमें उन दोषों को शामिल किया जाता है जो जन्म समय की ग्रहों की खराब स्थिति से उत्पन्न होते हैं, विष्णु सहस्त्रनाम बुरी किस्मत और श्राप से दूर कर सकता है।

*अच्छा भाग्य और तकदीर:-*

जो व्यक्ति विष्णु सहस्त्रनाम का जाप करता है उसका भाग्य हमेशा उसका साथ देता है।

*मनोवैज्ञानिक फायदे :-*

इसका मनोवैज्ञानिक लाभ भी है , दैनिक विष्णु सहस्रनाम का जप करते हुए मन को काफी आराम मिलता हैं और अवांछित चिंताओं और विचलित विचारों से मुक्ति मिलती है, इससे मन में सकारात्मक पहलुओं पर ध्यान केंद्रित करने और कुशलता सीखने को मिलती है।

*बाधाएं दूर होती हैं :-*

विष्णु सहस्त्रनामम अपने जीवन में बाधाओं को दूर करने का अंतिम उपाय है, यह आपके जीवन में मौजूद महत्वपूर्ण योजनाओं को तेज़ी से और आपके रास्ते पर बाधाओं और चुनौतियों को दूर करने में मदद कर सकता है, बढ़ती ऊर्जा स्तर और आत्मविश्वास के साथ, आप अपने जीवन के लक्ष्यों की ओर जल्दी और ऊर्जावान रूप से आगे बढ़ सकते हो ।

*रक्षात्मक कवच*

भगवान विष्णु का नाम दुर्भाग्य, खतरों, काला जादू, दुर्घटनाओं और बुरी नज़रों से व्यक्ति की रक्षा करने के लिए एक बहुत शक्तिशाली कवच की तरह कार्य करता है और दुश्मनों की बुरी योजनाओं से मन और शरीर की सुरक्षा करता है।

*पापों को मिटाना*

यह शक्तिशाली मंत्र एक व्यक्ति को अपने सारे जन्मों में अपने सभी पापों को मुक्त करने में सहायता कर सकता है।

*सन्तति देता है :-*

विष्णु के हजारों नामों का जप करने से बांझपन को दूर करने और परिवार में संतान प्राप्त करने में मदद मिल सकती है। यह घर में बच्चों के स्वास्थ्य और खुशी को बढ़ाता है और उनके समग्र कल्याण को बढ़ावा देता है।

This Moola Mantra is by Dr. Pillai; who claims this to be very effective.

The Mantra that gives “Everything to Everyone” ….
Like and share this article. For Many more useful Tips subscriber our Blog page: Mystic Blog and get auto notifications when new article added.
This is the most powerful mantra that Dr Pillai have revealed to you. It came directly from Vishnu, the Protector God.
This is the mantra called the Moola Mantra, the fundamental mantra. You will be protected from diseases; from pain and aches, suffering; from financial problems; from ignorance.
You should RECITE this mantra as often as you can. Do it in the third eye and in the midbrain. It will be very powerful.
“OM AIM HREEM SARVA LOKAYA ADITYAYA SIVA SATGURU BABAYA SWAHA”
At other times, you can recite it wherever you are and whenever you have time. You can use the mala beads or rosary beads, and you can chant this mantra.
You will receive miracles. Others will receive miracles. The entire earth plane and the other realities as well, will be saved and will receive miracles through this mantra.

 

Watch Dr Pallai’s Video

 

Rohitt Shah

Vastu Achary, Master Numerologis and Lal Kitab – iBazi Consultant.

WhatsApp/Call: +7776034447 OR 9049410786

eMail: MysticValues@gmail.com

 

 

If you chant mantras on mala then you must remember not to cross Meru of the mala. But you rather start chanting in backward direction.

For example…First Mantra you start in clockwise direction as marked 1 in image. For second chant one should start anti-clockwise aka from where you finished your 1st chant.

You should never cross Meru of the Mantra. It is believed that all the energy gets generated during chant is stored on Meru point and crossing it considered inauspicious. Best mala to use for Mantra chanting is Shiv-Shakti bead mala. Soon it will be made available.

Hope below image highlights the chanting method. Sorry for hand drawing. In image 1st chant is marked in blue colour and second is in Green. The yellow threads part or Tip of Mala is Meru point.

Our Vastu Guru Rahul KaushalJi (Occult Master) and Mystic Solutions has designed few picture images that can be used in particular directions by all irrespective you get Vastu done or not.  There are scared mantra etched (written) on each of the images. These pictures are by default given to all Vastu consultancy paying clients.

Images will help in following areas:

  1. Ensures healthy immunity
  2. Flow of new opportunities
  3. Gains and profits
  4. Ability to have positive churning before your actions
  5. Attract Prosperity, Wealth
  6. Strong relationship/bonding and skills development.

We at www.MantraTantraYantras.com giving away hard copy of these images digitally printed on high grade A3 size photo paper along with notes on exact direction to place them. All images are ready to use without any further modification from user end. One only need to stick them with double sided tape.  Full set is free, we are only covering printing and courier costs and no profit to be made. Our motto is to bring benefits of tried and tested Vastu enhancer/remedies to wider audience.

Cost of all these 7 images would be INR 550 + actual postage/courier cost based on address location.

If you wish to have these set of images then send us an email with exact address and number of sets require. One can also gift to their loved ones.

To Place an Oder:

eMail: MysticValues@gmail.com OR

WhatsApp: +7776034447

Payment Mode:

  • PayTm
  • Direct Bank transfer
  • PayPal
  • PayUMoney

IMAGES:

 

Thank You

Mystic Solutions; http://www.MantraTantraYantras.com

Older Posts:

Vastu Facts: WSW Direction

Vastu Facts: SW Direction

NOTE: One need to ensure that they locate the direction accurately for tips to work. We work on 16 zones (directions) so make sure you plot the direction accurately.

16 Zones (directions): North, North of NE, North-East(NE), East of NE, East, East of SE, South-East (SE), South of SE, South, South of SW, South-West (SW), West of SW, West, West of NW, North-West (NW), North of NW. Each zone carries its own attributes, colours, patterns and associations with 5 elements (Water, wood, Fire, Earth and Space).

 

Disclaimer

Jap this all purpose Mantra for overall prosperity. Jap 1 Mala (108 times) after taking bath. Ideal time to Jap this mantra is during Brahma Muhurata i.e. timing between 4:30 AM to 5:15 AM.

Subscriber, like and share our You Tube channel as well as our Blog Page.

 

Other Must read Blogs to uplift you

%d bloggers like this: